Open AI chatGPT News :   24 घंटें में इस्तीफे की झड़ी, हुआ बड़ा हंगामा

Open AI chatGPT News :- ओपन एआई  के ChatGPT  में बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा कल एक खबर आती है कि ChatGPT  को खड़ा करने वाले ओपन एआई की सीईओ सैम वाल्टमैन को अचानक बर्खास्त कर दिया गया है उसी के बाद कंपनी से जुड़ी एक और बड़ी खबर आ गई कंपनी के तीन सीनियर ओपन एआई के रिसर्चस ने कथित तौर पर अपने पोजीशन से इस्तीफा दे दिया है 

पिछले 24 घंटों में कंपनी से इस तरह की दूसरी खबर है आखिर चल क्या रहा है ओपन एआई में क्या है यह पूरा मामला जानेंगे इस रिपोर्ट में ओपन एआई ने स ऑल्टमैन को निकाल दिया 

उसके बाद ओपन आई के बोर्ड ने कोफाउंडर ग्रेग बैकमैन को भी हटा दिया अब कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कंपनी के डायरेक्टर ऑफ रिसर्च के रूप में काम कर रहे पटकी और एआई से रिलेटेड रिस्क का आकलन करने वाली टीम के मेजर हेड मैड और ओपन एई में 7 साल तक रिसर्चर रहे सिदोरजो जिशन से इस्तीफा दे दिया है वॉल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक ऑल्टमैन ने उन्हें हटाने के बोर्ड के फैसले पर हैरानी और गुस्सा जाहिर किया है उन्होंने कहा कि उन्हें बाहर करना उनके और बोर्ड के मेंबर्स के बीच पावर के लिए स्ट्रगल का नतीजा है सैम ऑल्टमैन को अचानक बरखास्त किए जाने के बाद मीरा मुरा को अंतरिम सीईओ नियुक्त किया गया 17 नवंबर की रात को सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर पोस्ट में ब्रॉक मैन ने कहा कि ऑल्टमैन को कंपनी के बोर्ड मेंबर्स के साथ दोपहर में एक वीडियो मीटिंग में इनवाइट किया गया था जबकि उन्हें नहीं बुलाया गया इस बैठक के दौरान ओपन एआई के कोफाउंडर और चीफ साइंटिस्ट इल्या सुस्त केवर ने कथित तौर पर ऑल्टमैन को यह बताया कि उन्हें निकाला जा रहा है रॉकमन ने लिखा बोर्ड ने आज जो किया उससे सैम और मैं हैरान और दुखी हैं 

चलिए तो यह बात हुई ओपन एआई के पूर्व कोफाउंडर और सीईओ की अब कंपनी ने जिसे नया कमान दिया है उसके बारे में थोड़ी जानकारी ले लेते हैं तो कंपनी की चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर यानी सीटीओ है मीरा मराती और यह अभी अंतरिम सीईओ की भूमिका निभाएंगी मीरा अल्बानिया में पैदा हुई थी और कनाडा में पली बढ़ी है और उन्होंने मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है उन्होंने डार्ट माउथ कॉलेज में ग्रेजुएशन के दौरान हाइब्रिड रेस कार बनाई थी और स्कूल में रहते हुए 

उन्होंने गोल्डमैन सक्स में इंटर्नशिप भी की थी टेस्ला में काम करने के बाद वह 2018 में ओपन एई में शामिल हुई और टेस्ला में उन्होंने मॉडल x कार को बनाने में अहम रोल निभाया टेस्ला में उन्होंने सीनियर प्रोडक्ट मैनेजर के रूप में 3 साल बिताए यहीं से उन्होंने एआई फील्ड में जाने का फैसला किया ओपन एआई ने उन्हें अप्लाइड एआई एंड पार्टनरशिप्स की की वाइस प्रेसिडेंट के रूप में नियुक्त किया था और उस वक्त कंपनी एक नॉन प्रॉफिटेबल ऑर्गेनाइजेशन थी बाद में इसने खुद को प्रॉफिट कंपनी के रूप में रिस्ट्रक्चर किया ताकि फंड जुटा सके और एआई प्रोडक्ट बना सके मीरा मुराद ने चैट जीपीटी और लई जैसे रिवोल्यूशन प्रोडक्ट्स के डेवलपमेंट में हाथ बटा या है पिछले साल उन्हें चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर यानी सीटीओ बनाया गया था 

जिसके बाद उन्होंने यह इंश्योर किया कि इंजीनियर तय समय पर चार जीपीटी के वर्जन डेवलप कर सके अब यह चट जीपीटी जिसको लेकर बहुत चर्चा हो रही है वह क्या है इसे थोड़ी से आसान भाषा में समझाने की कोशिश करते हैं तो ओपन एआई ने नवंबर 2022 में दुनिया के लिए चैट जीपीटी को अनवील किया था इस एआई टूल ने तेजी से पॉपुलर हासिल की है म्यूजिक और पोएट्री लिखने से लेकर बड़े-बड़े ऐसे तक चैट जीपीटी बहुत सारे काम आसान कर देता है यह कन्वर्सेशन एआई है यह एक ऐसा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस है जो आपको इंसान की तरह जवाब देता है और हर बार हर दफा सवाल पूछने पर एक अलग आंसर देता है आपको ओपन में माइक्रोसॉफ्ट जैसे बिग टेक कंपनी ने 30 बिलियन डॉलर से ज्यादा का इन्वेस्ट कर रखा है 

कंपनी ने अपनी रिसर्च इंजन बिंग में भी चज पिट को इंटीग्रेट किया है और भी कई कंपनियां चैजी पटी का इस्तेमाल करने के लिए आतुर हैं ऐसे में एआई बेस्ड इस चैट बॉट का इस्तेमाल आने वाले दिनों में कहीं ज्यादा फैलने की उम्मीद है बहुत चलन में आने वाला है 

यह अब क्रिटिक का chatgpt   के बारे में क्या कहना है वह क्या राय रखते हैं यह भी जानना जरूरी है तो उनका कहना है कि एआई का बढ़ता इस्तेमाल लोगों के लिए मुश्किल पैदा कर सकता है नौकरियां खत्म होंगी और लोगों को इस पर निर्भरता बढ़ती जाएगी लोगों की इस पर निर्भरता डिपेंडेंसी बढ़ती जाएगी और शायद एक दिन ऐसा भी आए कि इंसान सोचने का काम पूरी तरह एआई पर ही छोड़ दे खैर इस पूरे मामले में आप क्या सोचते हैं आपकी राय क्या है वोह भी अहम है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और पोस्ट को  शेयर करना ना भूले  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *