How to Earn Money with Domain Flipping? डोमेन फ़्लिपिंग से पैसे कैसे कमाएँ?

डोमेन फ़्लिपिंग से पैसे कैसे कमाएँ?  – domain names को खरीदकर और फिर बेचकर काफी प्रॉफिट बनाया जा सकता है, और इसे domain flipping कहते हैं। क्या ये बात आप जानते हो ? अगर आप जानते हो तो इसके बारे में आपको डिटेल में जानना चाहिए और अगर आपने ऐसा आज पहली बार ही जाना है, तो इसे पूरी तरह समझकर आप भी इस तरह के आसान इन्वेस्टमेंट से बहुत अच्छी अर्निंग कर सकते हो.. और फिर इसके लिए किसी तरह की पर्टिकुलर नॉलेज और स्किल्स की जरुरत भी तो नहीं होती, बस कुछ छोटी – छोटी बातों को समझकर आप भी डोमेन नेम्स से अच्छा – खासा प्रॉफिट बना सकते हो.. इसलिए आज के इस पोस्ट को पूरा पढ़ने  क्योंकि आज हम domain flipping को डिटेल में समझने वाले हैं।

डोमेन फ़्लिपिंग से पैसे कैसे कमाएँ?

आज डिजिटल मार्केटिंग और आई कॉमर्स जी तेजी से बड़े हैं उसे वजह से हर बिजनेस चाहता है की सर्च इंजन पर उसकी वेबसाइट टॉप रैंकिंग बना ये तभी तो उसकी टारगेट ऑडियंस तक उसे बिजनेस की पहुंच बढ़ेगी और इस से प्रॉफिट बढ़ेगा अब इस प्रोसेस में ऑनलाइन सक्सेस हासिल करने के लिए डोमेन नाम का रोल तो काफी इंपॉर्टेंट हो जाता है क्योंकि अगर आपके पास एक अच्छा डोमेन नाम है तो वो आपकी बिजनेस साइट को हाय रैंकिंग तक पहुंच देगा जिससे साइट पर ज्यादा ट्रैफिक आएगा और सेल्स वॉल्यूम इंक्रीज होगा इसका मतलब ये है की अच्छे डोमेन नेम्स की काफी डिमांड है 

इसलिए यह एक अच्छी इन्वेस्टमेंट अपॉर्चुनिटी भी बन शक्ति है जो में नेम्स को खरीद कर और फिर बेचकर काफी प्रॉफिट बनाया जा सकता है और इसे डोमेन स्लीपिंग कहते हैं क्या यह बात आप जानते हैं अगर आप जानते हो तो इसके बड़े में आपको डिटेल में जानना चाहिए और अगर आपने ऐसा आज पहले बार ही सुना है जाना है तो इसे पुरी तरह समझ कर आप भी इस तरह के  इन्वेस्टमेंट से बहुत अच्छी अर्निंग कर सकते हैं और फिर इसके लिए किसी तरह की पर्टिकुलर नॉलेज और स्किल की जरूर भी तो नहीं होती बस कुछ छोटी-मोटी बारे को समझकर आप भी डोमेन नाम से अच्छा खास प्रॉफिट बना सकते हैं तो अगले कुछ मिनट तो बनते हैं इस पोस्ट पर इन्वेस्ट करने के लिए तो चलिए शुरू करते हैं सबसे पहले यह क्लियर कर लेते हैं की डोमेन नाम होता क्या है

  डोमेन नाम होता क्या है

डोमेन नाम इंटरनेट पर एक वेबसाइट का एड्रेस होता है जब हम वेब ब्राउज़र में डोमेन नाम टाइप करते हैं तो यह हमें उसे वेबसाइट तक ले जाता है जिसका डोमेन नाम हमने टाइप किया है जैसे google.com facebook.com हर दिन डोमेन नाम खरीदी और बेचे जाते हैं 

 अगर डोमेन फ्लैपिंग सही तरह से की जाए तो प्रॉफिट मिलना तो पक्का है इसकी शुरुआत साइड बिजनेस की तरह की जा शक्ति है और इस मिलने के साथ साथ आप इसे फूल टाइम बिजनेस भी बना सकते हैं 

डोमेन फिलीपीन क्या होता है  

चलिए अब समझते हैं डोमेन फिलीपीन को जैसा की हमने पहले जाना की डोमेन नेम्स को खरीदना और बेचना डोमेन स्लीपिंग है लेकिन इसमें इंपॉर्टेंट बात यह है की डोमेन नेम्स को बहुत ही कम प्राइस में गया और फिर हाय प्राइस में बेचा गया जिससे प्रॉफिट मिला अब ऐसा करने के लिए हर डोमेन फ्लिपर की अपनी स्ट्रेटजी होती है 

लेकिन इसका आइडिया तो सबका से ही होता है कुछ डोमेन फ्लिपर डोमेन नेम्स को कम डेमन में खरीद कर उसे लंबे टाइम तक अपने पास हॉल रखते हैं 

ताकि इन्वेस्टमेंट पर मैक्सिमम रिटर्न मिल सके जबकि कुछ डोमेन फ्लिपर कम टाइम के लिए ही डोमेन नेम्स को हॉल रखते हैं और कुछ हफ्तों से मीना में ही उसे बीच देते हैं तो प्रॉफिट ऑन करने का सबका तरीका अलग-अलग होता है 

ऐसे में यह सवाल आता है की कौन सी डोमेन स्लीपिंग के लिए बेस्ट होते हैं

  • तो डोमेस्टिक के लिए डोमेन चीज करते समय आप न्यू डोमैंस और एक्सपायर डम्स में से चीज कर सकते हैं दोनों ही डोमेन सिलेक्ट करते समय अगर इनके ब्राउज और कंस को ध्यान रखेंगे तो इसे ज्यादा प्रॉफिट आप काम पाएंगे अथॉरिटी होती है अच्छा ट्रैफिक वॉल्यूम होता है 
  • लेकिन यह ज्यादा महंगे होते हैं क्योंकि इनकी अवेलेबलेटी काफी लिमिटेड होती है इस तरह के डोमेन की हिस्ट्री को वेरीफाई करना भी जरूरी हो जाता है 
  • ताकि पता चल सके की कहानी इलीगल एक्टिविटीज की वजह से सर्च इंजंस ने इसे ब्लॉक लिस्ट तो नहीं कर रखा 
  • इस तरह डोमेन को उसके फायदे और नुकसान देख कर खरीदने के लिए चुनाव जा सकता है 
  • अब जब डोमेन फिलीपीन के बारे में ये सब जान ही लिया है 
  • तो फिर अब आगे डोमेन फ्लिप करने के प्रोसेस को भी समझ लेते हैं
  • जॉमिन फिलीपीन शुरू करने के लिए आपको यह स्टेप्स फॉलो करने होंगे पहले स्टेप है 

सबसे पहले क्वालिटी डोमेन सर्च करें 

आपको ऐसा डोमेन नाम चीज करना होगा जो महंगा ना हो लेकिन यूनिक हो इस तरह का डोमेन नाम चीज करने के लिए आप इन बारे पर गौर कर सकते हैं डोमेन नाम शॉट हो जैसे google.com या youtube.com .com  की कीमत ज्यादा होती है लेकिन क्योंकि ये ज्यादा और रिपोर्टेबल होते हैं इसलिए ये आसानी से सेल भी हो जाते हैं इसलिए शुरुआत में पॉपुलर डोमेन नाम एक्सटेंशंस पर ही फॉक्स करें  नीचे के अकॉर्डिंग डोमेन नाम परचेज करें 

क्योंकि बहुत से ऑनलाइन बिज़नेस अपनी स्पेसिफिक इंडस्ट्री लोकेशन और सर्विसेज से रिलेटेड डोमेंस लेना ही प्रेफर करते हैं इसलिए नीचे से रिलेटेड डोमेन नेम्स खरीद कर उन्हें सेल करना आसन हो सकता है 

इन साड़ी बारे में ध्यान में रखते हुए आप डोमेन नाम सिलेक्ट कर ले और मार्केट में होने वाले बदलाव और डिमांड पर भी अपनी नजर बनाए रखें ताकि आप समझ सके की किस टाइम ट्रेड में क्या चल रहा है क्या पसंद किया जा रहा है और किसकी डिमांड ज्यादा है 

दूसरा स्टेप आता है डोमेन नाम खरीदकर रजिस्टर करवाइए 

डोमेन नाम सर्च कर लेने के बाद बड़ी आई है उसे खरीदने और रजिस्टर करवाने की इसके लिए आपको रिपिटेबल डोमेन रजिस्टर की जरूर होगी यह कंप्लीट होती है जो डोमेन रजिस्ट्रेशन के लिए ऑथराइज्ड होती है इस कंपनी को चूज करते समय भी आपको इन बारे में  ध्यान रखना चाहिए 

रजिस्ट्रार की डोमेन ट्रांसफर पॉलिसी को जरूर पढ़ लेने और कंफर्म करने की यह ट्रांसफर प्रोसेस कॉम्प्लिकेटेड ना हो रजिस्ट्रार की फीस बहुत ज्यादा राहु ये देखना भी जरूरी है साथ ही एक्सप्रेशन पॉलिसी और डोमेन प्राइवेसी प्रोटेक्शन को भी समझ ले उसके बाद ही डोमेन नाम को उसे रजिस्ट्रार से खरीद कर रजिस्टर करवाएगी हर स्टेप पर अगर आप अवेयर रहते हुए खुद को लॉस से प्रोटेस्ट करते चलेंगे तो ही फाइनल रिजल्ट में  आपको डोमेन सेल पर मैक्सिमम प्रॉफिट मिल सकेगा अब चाहे तो डोमेन नाम को खरीदने और रजिस्टर करने की प्रोसेस को अलग-अलग भी कर सकते हैं 

तीसरा स्टेप है डोमेन नाम सेल करने के लिए उसका प्राइस सेट कीजिए 

डोमेन नाम को खरीद कर उसका रजिस्ट्रेशन करवा कर आपने डोमेन नाम अपने नाम कर लिया है अब बड़ी आएगी उसे बेचे की लेकिन इतनी भी क्या जल्दी है 

पहले यह तो समझ लिया जाए की डोमेन नाम को सेल करने के लिए उसका प्राइस कैसे सेट किया जाए 

जो प्रॉफिटेबल हो तो अगर सक्सेसफुल डोमेन फ्लिपर से सीखना चाहे तो आप यह बात सिख सकते हैं की डोमेन नेम्स को सेल के लिए लिस्ट करने से पहले आप रिसर्च कीजिए उनकी मार्केट वैल्यू को चेक कीजिए और इसके लिए आप डोमेन मार्केट की रिसर्च करके पता लगाइए की आपके डोमेन के सिमिलर डोमेन की सेल प्राइस पहले क्या रही है इसके अलावा आप नाम परोस और डीएनए फोरम जैसे डोमेन रिलेटेड फोरम को जॉइन कर सकते हैं और यहां प्रोफेशनल डोमिनोज से डिस्कस करके बेस्ट स्ट्रेटजी जान सकते हैं इन फोरम पर डोमेन ट्रेंड्स के बारे में अपडेट्स भी आपको जल्दी जल्दी मिलती रहती है फोरम के अलावा डोमेन अप्रेजल टूल्स का उसे करके भी आप डोमेन की लेंथ वॉर्डिंग और सो फ्रेंडली ने इसके बेस पर प्राइस का एस्टीमेट ले सकते हैं और उसके बाद प्राइसिंग स्ट्रेटजी सेट कर सकते हैं जो की फिक्स्ड प्राइसिंग भी हो शक्ति है और फ्लेक्सिबल प्राइसिंग भी हो शक्ति है 

नंबर कर पर है डोमेन नाम सेल करने के लिए प्लेटफॉर्म चूज करें 

डोमेन नाम की प्राइसिंग सेट करने के बाद अब बड़ी आएगी डोमेन को बेस्ट प्राइस पर सेल करने की लेकिन आप यह कैसे कर पाएंगे इसके लिए आपको एक प्लेटफॉर्म की जरूर होगी जो आपके डोमेन नाम को सेल करने के लिए परफेक्ट प्लेस हो और इसके लिए कुछ डोमेन नाम सेलिंग प्लेटफॉर्म के ऑप्शंस हो सकते हैं डोमेन स्लीपिंग मार्केट प्लेस और डम ऑप्शन साइड जैसे गोडैडी एक्शन फ्लिप नाम चिप मार्केटप्लेस इबे आफ्टर नेक्स्ट सैडो इनमें से बेस्ट कस करने के लिए भी आपको रिसोर्स तो करनी ही चाहिए इनके अलावा डोमेन ब्रोकर जैसे ग्रेट ब्रोकरेज के जरिए भी डोमेन नाम सेल किया जा सकता है 

नंबर पांच पर है डोमेन को सेल कीजिए 

डोमेन नाम सेल करने के लिए सही प्लेटफॉर्म चुन लेने के बाद अब आप अपने डोमेन नाम को सेल कर सकते हैं इस प्रोसेस में आपको पेमेंट कलेक्ट करना होगा और डोमेन ओनरशिप ट्रांसफर करनी होगी इस टाइम भी आपको सिर्फ ट्रांजैक्शन का ध्यान रखना चाहिए और इसके लिए आप स्को सर्विस का उसे कर सकते हैं एक एस्ट्रो एक ट्रस्टेड कंपनी होती है जो न्यूट्रल थर्ड पार्टी की तरह एक्ट करती है यह बार और सेलर को कनेक्ट करती है और ये एश्योर करती है की दोनों पार्टी ट्रांजैक्शन टर्म्स के लिए एग्री करें 

जैसे मार्केटप्लेस और ऑप्शन साइट्स पर डोमेन सेल करने पर यह एस्ट्रो सर्विस फ्री भी मिल शक्ति है और अगर आप डोमेन की डायरेक्ट सेल कर रहे हो तो आपको एक एस्ट्रो सर्विस खरीदनी पद शक्ति है पकाने से पहले यह भी इंश्योर कर लीजिए की डोमेन के प्राइवेसी प्रोटेक्शन को आपने डिसएबल कर दिया है और डोमेन का कोई पेंडिंग या रिडेंप्शन स्टेटस तो नहीं है 

अब अगर आपने इन फाइव स्टेप्स को सही तरीके से फॉलो किया होगा तो आपको डोमेन सेल करने पर जरूर प्रॉफिट मिलेगा और जैसे-जैसे आप इस एरिया की बारीकियां को एक्सपीरियंस करते जाएंगे आपके लिए अपने प्रॉफिट को बढ़ाना भी आसन हो जाएगा क्योंकि आप एक्सपर्ट जो बन चुके होंगे लेकिन आपको ये भी याद रखना होगा की लगातार हर डोमेन नाम सेल पर प्रॉफिट मिलते जान का ये मतलब नहीं होगा की अब आपको रिसर्च की जरूर नहीं होगी ये बात आप बहुत अच्छी तरह जानते हैं की मार्केट कोई भी हो उसमें तेजी से बदलाव आते हैं मार्केटिंग और प्रोडक्ट सीलिंग के तरीके से बदलते रहते हैं ऐसे में मार्केट की रिसर्च और अवेयर रहते हुए किया गया 

बिजनेस की हमेशा सेफ बिजनेस और प्रॉफिटेबल सेल के चांसेस बड़ा सकता है और डोमेन फ्लिपिंग से फायदा मिल सकता है वैसे डोमेन स्लीपिंग के कई सारे फायदे हैं जैसे-जैसे शुरू करने के लिए आपको ज्यादा इन्वेस्ट करने की जरूर नहीं होगी बहुत ही कम पैसों में आप डोमेन नाम खरीद सकते हैं जो ₹100 में भी ए सकते हैं और कई बार उससे भी कम में और क्योंकि इसे कोई भी कभी भी शुरू कर सकता है इसलिए इसमें कोई आगे और नॉलेज बैरियर भी नहीं आता हां लेकिन अगर आप जल्द से जल्द फील्ड की अच्छी नॉलेज लेना चाहते हैं तो इसके लिए आप युटुब में जैसे कई प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन कोर्सेज कर सकते हैं 

ताकि डोमेन रिसर्च डोमेन वैल्यूएशन नेगोशिएशन और नेटवर्किंग को समझ सको और समझना तो आपको ये भी होगा की देर सारे बेनिफिट्स और प्रॉफिट देने वाले यह डोमेन फ्लिपिंग कुछ रिस्क भी साथ लेकर चलती है जींस अपना बचाव करते हुए आपको आगे बढ़ाना है ऐसे रिस्क यह हो सकते हैं ट्रेडमार्क क्योंकि यूं तो डोमेन नेम्स रजिस्टर करना और सेल करना लीगल होता है 

लेकिन कुछ डोमेन नेम्स में उनकी ओनरशिप को लेकर के इश्यूज हो सकते हैं इसलिए डोमेन नेम्स खरीदने और बेचे से पहले उसके कॉपीराइट्स एक्जिस्टिंग कमर्शियल नेम्स और डोमेन ब्लॉक लिस्ट को जरूर से चेक कर ले हर बार प्रॉफिट मिलन जरूरी नहीं है इसके लिए तैयार रहे क्योंकि कुछ डोमेन तो हो सकता है की कुछ हफ्तों में ही बाईक जाए लेकिन कुछ को सेल होने में महीने और साल भी ग सकते हैं क्योंकि इस इन्वेस्टमेंट के साथ भी प्रॉफिट की गारंटी नहीं आई और डोमेन स्लीपिंग से जो अर्निंग होगी वो टैक्सेबल भी होगी तो इस तरह इस पोस्ट के जरिए 

आप ये तो समझिए गए हैं की डोमेन स्लीपिंग क्या है कैसे की जाति है इससे होने वाले फायदे और इसके रिस्क फैक्टर्स क्या है तो अब आप ही अपने दोस्तों को ये बता सकते हैं की डोमेन स्लीपिंग इन्वेस्टमेंट का एक प्रॉफिटेबल तरीका है जो फ्लेक्सिबल भी है और लो कॉस्ट में स्टार्ट किया जा सकता है 

बिना एक्सपीरियंस के भी आप इसे शुरू कर सकते हैं तो कमेंट क्षेत्र में बताइए ये जानकारी आपको कैसी लगी अच्छी लगी है तो देर ढेरसारी  प्यार और सपोर्ट हमें हमेशा की तरह देते रहिए बाकी कोई नया पोस्ट कोई नया टॉपिक नया सब्जेक्ट ओके तो आप लिख भेजिए हम उसे पर जल्दी ही पोस्ट लेकर आएंगे तब तक के लिए लाइक ऑलरेडी कर चुके हैं तो इस पोस्ट को शेर कीजिए ज्यादा से ज्यादा दोस्तों के साथ तो मिलेंगे जल्दी ही नई पोस्ट नई जानकारी के साथ  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *